स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ टेकाम ने एकलव्य विद्यालय पोंडीडीह में किया मध्यान्ह भोजन

news-details

अफ़सर अली

 

एकलव्य विद्यालय के आडिटोरियम के साज सज्जा के लिए 10 लाख रूपये की घोषणा

 

बैकुंठपुर । छत्तीसगढ़ के स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ प्रेमसाय सिंह टेकाम ने विकासखंड खडगवां के ग्राम पोंडीडीह स्थित एकलव्य संयुक्त आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में मध्यान्ह भोजन योजनान्तर्गत आयोजित सोया दूध एवं ब्रेकफास्ट कार्यक्रम का शुभारंभ किया। इसके बाद उन्होंने सुमित कुमार ध्रुर्वे, कु. मालती सिंह, कामेश्वर सिंह, कु. अंशु सिंगराम, संजय सिंह, कु. जया धनवार, नवीन तिग्गा, कु. मोनिका सिंह, प्रबल सिंह एवं कु. आयुषि को दूध एवं ब्रेकफास्ट देकर अपनी शुभकामनाएं दी। इसके पूर्व उन्होंने श्रम विभाग द्वारा चयनित हितग्राहियों को सुरक्षा उपकरण, असंगठित कर्मकार मुख्यमंत्री सायकल सहायता योजना के अंतर्गत महिला एवं पुरूष हितग्राहियों को सायकल, समाज कल्याण विभाग द्वारा अस्थि बाधित विवाहित दंपत्ति को 50 हजार रूपये का चेक, उद्यानिकी विभाग द्वारा सब्जी बीज किट, खाद्य विभाग द्वारा राशनकार्ड, राजस्व विभाग द्वारा ऋण पुस्तिका एवं मुआवजा राशि तथा महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा सुपोषण टोकरी का वितरण किया।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ टेकाम ने उपस्थित लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि मध्यान्ह भोजन योजना की फ्लैक्सी मद अन्तर्गत राज्य के दो जिलों में बिलासपुर के पेण्ड्रा विकासखंड स्थित शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय नवागांव तथा कोरिया जिले के खड़गवां विकासखंड के एकलव्य संयुक्त आवासीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पोंडीडीह में बच्चों को प्रथम कालखण्ड में ब्रेकफास्ट प्रदान करने हेतु पायलेट प्रोजेक्ट के रूप में चयन किया गया है। ब्रेकफास्ट में प्रोटीन क्रंच 15 ग्राम, उच्च प्रोटीन फोर्टीफाईड सोया बिस्किट 20 ग्राम, पौष्टिक चिवड़ा 30 ग्राम एवं उच्च प्रोटीन फोर्टीफाईड हलवा 50 ग्राम प्रति छात्र के लिए मात्रा निर्धारित किया गया है। यह उच्च न्यूट्रिशियन वाली खाद्य पदार्थ है। इसे पकाने की आवश्यकता नहीं है। इससे कुपोषण से बच्चों को दूर रखा जा सकेगा। साथ ही मध्यान्ह भोजन अंतर्गत कोरिया जिले के समस्त विकासखंडों में सुगंधित सोया दूध प्रदान किया जायेगा।

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ टेकाम ने कहा कि भारत सरकार ने इस कार्यक्रम को ऐसे गरीब बच्चों के लिए जो बिना नाश्ता किये घर से स्कूल आ जाते हैं और दोपहर तक भूखे रहे जाते हैं, उनके लिए ब्रेकफास्ट की शुरूआत और बढते बच्चों के शारीरिक एवं मानसिक विकास के लिए अतिरिक्त पोशण आहार देने के उददेष्य से शुरू करने का निर्णय लिया है। उन्होंने कहा कि इसके सफल होने पर प्रदेश के सभी विकासखंड में लागू किया जायेगा। इस अवसर पर उन्होंने एकलव्य विद्यालय के आडिटोरियम के साज सज्जा के लिए 10 लाख रूपये की घोषणा की। कार्यक्रम में हाईस्कूल एवं हायरसेकेण्डरी बोर्ड परीक्षा में टाप 3 आने वाले विद्यार्थियों के साथ साथ जिले में शिक्षा के क्षेत्र में कार्य करने वाले शिक्षकों का भी सम्मान किया गया ।

कार्यक्रम को सरगुजा क्षेत्र आदिवासी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष एवं भरतपुर-सोनहत  विधायक गुलाब कमरो, मनेन्द्रगढ विधायक डाॅ. विनय जायसवाल, जिला पंचायत की अध्यक्ष श्रीमती कलावती मरकाम, कलेक्टर डोमन सिंह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर नगर पालिक निगम चिरमिरी के महापौर के. डोमरू रेड्डी, जनपद पंचायत खडगवां के अध्यक्ष  हृदय सिंह एवं उपाध्यक्ष अशोक जायसवाल, पुलिस अधीक्षक विवेक शुक्ला, पंचायत एवं नगरीय निकाय के जनप्रतिनिधि, शिक्षा एवं आदिवासी विकास विभाग सहित जिला-पुलिस प्रशासन के संबंधित अधिकारी एवं बडी संख्या में स्कूली छात्र-छात्राएं एवं शिक्षक व आम नागरिक उपस्थित थे।

Related News