गरबा महोत्सव की तैयारी को लेकर हुई बैठक,गरबा में प्रतिभागी बनने पंजीयन 16 एवं प्रशिक्षण 20 सितम्बर से शूरू

news-details

 
बालाजी समिति के सदस्यों से महत्वपूर्ण विषयों पर की गई चर्चा

जशपुरनगर -जशपुर जिले में प्रतिवर्ष बालाजी जनकल्याण समिति के द्वारा विभिन्न धार्मिक एवं सामाजिक क्षेत्रों में ज़िले के विकास एवं यहाँ की परम्परा को बनाये रखने के लिए समय-समय पर कई कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है। इसी कड़ी में बालाजी समिति के द्वारा  इस वर्ष भी नवरात्र के अवसर पर गरबा महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। जिसकी तैयारियों को लेकर आज समिति के सदस्य बालाजी मंदिर के प्रांगड़ में एक बैठक का आयोजन कर सभी से सलाह मशवरा कर विभिन्न गतिविधियों के बारे में विस्तार से चर्चा किया गया। इस अवसर पर समिति के अध्यक्ष श्री मनोजरमाकांत मिश्र, सर्व श्री संतोष स्वर्णकार, संजय अग्रवाल, शरद साहू, गौतम झा, यसवंत स्वर्णकार, राकेश मिश्रा, कांति प्रधान, रवि भगत,  समर विजय प्रसाद सिंह, उमेश साहू, प्रतीक श्रीवास्तव, शुभम खूंटे,नकुल साहू, विनोद यादव, ललित साहू,कमलेस्वर सारथी,रोहित अम्बष्ट, अनुभव सिंह,अमन गुप्ता, एवं महिला सदस्य भी उपस्थित थे।
     बालाजी जनकल्याण समिति के अध्यक्ष श्री मनोजरमाकांत मिश्र ने बताया कि समिति के  द्वारा प्रतिवर्ष गरबा महोत्सव का आयोजन किया जाता है। जिसमें ज़िले भर के श्रद्धालु इस महोत्सव में हिस्सा लेने पहुचते है। जिसके लिये गरबा के पूर्व बालाजी मंदिर प्रांगण में गरबा का विशेष प्रशिक्षण प्रदान किया जाता है। जिसके बाद 9 दिन गरबा में यहाँ के श्रद्धालु झूम उठते है। जिसे दिखने ज़िले भर के लोगों की भीड़ बड़ी संख्या में आती है। जशपुर  इस समय पूरी तरह से रंगों और रंग बिरंगे लाइटों से सजा होता है। जशपुर के रहवासी भी पूरे नवरात्र में अपने परिवार के साथ घरों से निकल कर अपनी श्रद्धा भक्ति के साथ मंदिरों में दर्शन और गरबा देखने निकलते है। जिले में रात्रि 10 बजे तक नवरात्र में भीड़ उमड़ी दिखाई पड़ती है।
गरबा समिति का गठन
         बालाजी समिति के द्वारा प्रतिवर्ष गरबा के सफल औऱ नए योजनाओं को सामने लाने हेतु बालाजी समिति के सदस्यों में से ही प्रतिवर्ष अलग-अलग सदस्यों का गरबा महोत्सव के लिये गरबा समिति का गठन किया जाता है। इस वर्ष भी बालाजी समिति के द्वारा नए गरबा  समिति के हाथों में महोत्सव की तैयारियों के लिये जिम्मेदारी सौंपी गई है।
गरबा में हिस्सा लेने पंजीयन प्रारंभ
           समिति द्वारा गरबा महोत्सव में शामिल होने  वाले प्रतिभागियों हेतु पंजीयन भी प्रारम्भ कर दिया गया है।   पंजीयन 16 सितम्बर से प्रारंभ किया गया है। जिसके लिये शुल्क का भी निर्धारण किया गया है। पंजीयन के पश्चात प्रतिभागियों को आईडी कार्ड भी प्रदान किया जाएगा। जिसमे यह उल्लेखित होगा कि प्रतिभागी को से ग्रुप में गरबा करेगा।  पंजीयन के बाद निः शुल्क गरबा प्रषिक्षण भी समिति के द्वारा दिया जा रहा है। जो को 20 सितम्बर से प्रारंभ होगा। इच्छुक प्रतिभागी गरबा में शामिल होने के लिए  अपना पंजीयन बालाजी मंदिर में शाम 5.30 से करा सकते है या इस सम्बंध में अधिक जानकारी के लिये बालाजी मंदिर में भी सम्पर्क किया जा सकता है।
गरबा नृत्य के लिये  बनेंगे तीन समुह
            नवरात्र में आयोजित गरबा महोत्सव में गरबा और डांडिया नृत्य के लिए छोटे बच्चे से लेकर बड़े बुजुर्ग तक इसमें हिस्सा लेते है। जिसके लिये समिति इन्हें तीन समूहों में विभाजित कर गरबा नृत्य कराती है। इस नृत्य में सब जूनियर, जूनियर, सीनियर तीन ग्रुप बनाया जाता है। और बारी  बारी से इस ग्रुप के द्वारा मधुर संगीत भक्ति मय गानों में सूंदर-सूंदर परिधान में थिरकते देखते है। जिसे देखने के बाद दर्शको के पैर भी अपने आप थिरकना शुरू हो जाता है।।
 सांस्कृतिक कार्यक्रम, झांकी प्रदर्शन के साथ सजेगा विशेष पंडाल
समिति के द्वारा नवरात्र के अंतिम 4 दिनों तक विशेष सांस्कृतिक कार्यक्रम का आयोजन लगातार किया जाएगा।। इन चारों दिन झांकी भी देखने को मिलेगा। समिति के द्वारा मिली जानकारी के अनुसार विशेष ग्रे नोट्स टीम  एवं बालाजी समिति के  संगीत कलाकारों के द्वारा धमाकेदार संगीत कार्यक्रम का आयोजन भी किया जाएगा ।

Related News