slider
slider
slider
slider
slider
slider

मोहर्रम को लेकर शांति समिति की बैठक आयोजित : रतलाम में निकलेंगे 215 ताजिए एवं 15 अखाड़े,शस्त्र, धारदार हथियार प्रतिबंध रहेंगे।

news-details

भरत शर्मा की रिपोर्ट

आज का दिन न्यूज रतलाम/ आगामी मोहर्रम आयोजन के संबंध में शांति समिति की बैठक आयोजित की गई अनुमति में दिए गए समय के अनुसार ही ताजियों अखाड़े का प्रारंभ एवं समापन किया जाएगा। अनुमति अनुसार सभी शर्तों का पालन किया जाए, सामाजिक तत्वों द्वारा व्यवधान उत्पन्न करने पर उनके विरुद्ध कठोर वैधानिक कार्रवाई की जाएगी। अखाड़े में शस्त्र, धारदार हथियार प्रतिबंध रहेंगे। 

मोहर्रम आयोजन के संबंध में रतलाम के अलावा जिले के अन्य स्थानों पर भी शांति समिति बैठकर आयोजित की गई बैठक में मोहर्रम आयोजन के संबंध में आवश्यक दिशा निर्देश आयोजकों को प्रदान किए गए। बैठक में अपर कलेक्टर आर.एस. मंडलोई, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक  राकेश खाखा आदि उपस्थित थे। 

बैठक में शांति समिति के सदस्य एवं आयोजकों से चर्चा करके दिशा-निर्देश प्रदान किए गए कि सभी ताजिया कमेटी को अनुमति प्राप्त करना अनिवार्य होगा। ताजियों तथा अखाड़े के सुचारू संचालन के लिए वालंटियर बनाए जाने का निर्णय लिया गया। वालंटियर की सूची आयोजकों से प्राप्त कर वालंटियर की पृथक से बैठक रख आवश्यक समझाईश दी जाएगी। निर्देशित किया गया कि वालंटियर को ताजिया कमेटी द्वारा कार्ड दिया जाएगा, ताजिए के संचालन की जिम्मेदारी वालंटियर की रहेगी बिजली के तार तथा अन्य केबल्स को नुकसान नहीं पहुंचे, ताजियों का चलन आसानी से हो सके, इसलिए ताजिए की ऊंचाई ग्रामीण क्षेत्र में 10 फीट, रतलाम जावरा शहर में ऊंचाई 11 फीट एवं कंधों पर उठा जाने के बाद 16 से 17 फीट से अधिक नहीं रहेगी। 

रतलाम जिले में लगभग कुल 215 ताजिए एवं लगभग 15 अखाड़े निकले जाएंगे जिनमें से रतलाम शहर में 40 ताजिए, जावरा शहर में 52 ताजिए, रतलाम ग्रामीण क्षेत्र 45, सैलाना 9, जावरा ग्रामीण 41, आलोट में 28 ताजिए निकाले जाएंगे।

whatsapp group
Related news