slider
slider
slider
slider
slider
slider
slider
slider

बगीचा में भाजपा ने ऐसा रचा चक्रव्यूह की कांग्रेस की सारी रणनीति हुई फेल : कांग्रेस में कार्यकर्ताओं के कमी का भाजपा नेताओं ने उठाया भरपूर फायदा,भाजपा नेता कृष्ण कुमार राय द्वारा रचे गए चक्रव्यूह को सफल करने मुकेश शर्मा ने भी झोंकी पूरी ताकत

news-details

जशपुर : जशपुर विधानसभा क्षेत्र में भाजपा को 17 हजार से ज्यादा मतों से मिले जीत के पीछे असली चाणक्य परिणाम के बाद सुर्खियों में बने हुवे हैं।जशपुर जिले में भाजपा के शिल्पीकार कहे जाने वाले कृष्ण कुमार राय ने विषम स्थिति में भी ऐसी रणनीति तैयार की जिसमें कांग्रेस का जमीन भी खिसक गया।

ज्ञात हो कि भाजपा के अधिकृत प्रत्यासी श्रीमती रायमुनी भगत के टिकट फायनल होते ही विरोधियों ने खुलकर विरोध करना शुरू कर दिया तो वहीं नाराज कार्यकर्ताओं से भितरघात का भी खतरा मंडराने लगा। अचानक निर्मित हुवे विषम परिस्थिति से निपटने भाजपा के शिल्पीकार कृष्ण कुमार राय ने रणनीति तैयार करना शुरू कर दिया।इसके लिए सबसे पहले भाजपा के परंपरागत मतदाताओं को एकजुट करने का लक्ष्य रखा गया,जिसके बाद जातिगत समीकरण के आधार पर स्थानीय लोकप्रिय नेताओं को भी मैदान में उतारा गया। इस दौरान इस बात का भी ध्यान रखा गया कि हिंदू मतदाताओं को एक सूत्र में पिरोए रखने हिंदुत्व कार्ड खेला जाना आवश्यक है,जो समय आने पर खेला भी गया।क्षेत्र में नागेसिया,कोरवा,और हिंदू उरांव मतदाताओं को समेटने में सफलता प्राप्त करने के लिए कृष्ण कुमार राय ने यहां अपने विश्वसनीय मुकेश शर्मा को जिम्मेदारी सौंपा।मुकेश शर्मा ने जिम्मेदारी मिलते ही सबसे पहले सभी क्षेत्रों में भाजपा की ए और बी टीम तैयार किया,जिसके बाद स्थानीय जनप्रतिनिधियों से संपर्क साधते हुवे पार्टी के योजना अनुसार बने जन घोषणा पत्र के प्रचार प्रसार में तेजी लाते हुवे कमल निशान पर मतदान करने का अपील किया गया।यहां भाजपा की बी टीम द्वारा किए जा रहे सायलेंटली कार्य की भनक कांग्रेस सहित अन्य दलों को नहीं लग पाई या आभास होने के बावजूद भी अन्य दल के लोग इस रणनीति को समझ पाने में नाकाम रहे।लेकिन मुकेश शर्मा रणनीति को सफल बनाने दिन रात मेहनत करते रहे।इस कार्य में रामसलोने मिश्रा,अनिल जायसवाल,भगवान राम गुप्ता,शंकर गुप्ता सहित अन्य 15 लोगों की टीम क्रमशः क्षेत्र के अनुसार बंट गई और जीत ले लक्ष्य के लिए काम करने लगी।यहां भाजपा की रणनीति में एक चीज काफी असरकारक रहा जिसमें जिस कार्यकर्ता से नुकसान होने का अंदाजा पार्टी को ग्रामीणों के माध्यम से पता चलता था उस कार्यकर्ता का नट टाइट कर वहां भाजपा की बी टीम को कार्य में लगा दिया जाता था।सबसे महत्वपूर्ण रोल में रहे मुकेश शर्मा के ऊपर 161 बूथों की जिम्मेदारी थी जिसमें से अनुमानित 18 हजार से ज्यादा मतों से बढ़त दिलाने में मुकेश शर्मा की समूची टीम कामयाब रही।इस जीत के पीछे बगीचा शहर,बगीचा ग्रामीण,पंडरापाठ और सन्ना मंडल के कार्यकर्ताओं का अतुल्य योगदान रहा जिन्होंने 325 बूथों में से मात्र 161 बूथों से 18 हजार से ज्यादा मतों से बढ़त दिला कांग्रेस की मुसीबतें बढ़ा दी।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर रही पैनी नजर

भाजपा के मुकेश शर्मा ने कांग्रेस प्रत्यासी के योजना और कार्यशैली पर लगातार नजर बनाए रखने अपने मुखबिर तंत्र को तेज किया।जिसमें मुकेश शर्मा को जानकारी मिला की कांग्रेस के पास कार्यकर्ताओं की कमी है और जो कार्यकर्ता काम कर रहे हैं वह उतने अनुभवी या सक्षम नहीं जो मतदाताओं के समर्थन को वोट में तब्दील कर सके।तत्काल इसके पीछे नया रणनीति तैयार किया गया और भाजपा की सी टीम इस कार्य में जुट गई।जिनका एक ही कार्य रहा कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं के द्वारा ग्रामीणों को दिए जा रहे प्रलोभन पर नजर बना उसका काट तत्काल निकाले।इस योजना में भाजपा सफल भी रही जिस कारण कांग्रेस कार्यकर्ताओं को खुलकर  चुनाव में पैसा व अन्य सामान बांटने का मौका नहीं दिया गया,आलम यह रहा कि अधिकांश कार्यकर्ता पैसा अपने ही पास रखे रहे।

संकट से उबारने इनका रहा विशेष योगदान

बगीचा,सन्ना और पाठ क्षेत्र में परंपरागत मतदाताओं को एकजुट रखने मुकेश शर्मा ने यहां भाजपा नेता कृष्ण कुमार राय के नेतृत्व में चक्रव्यूह रचा।जिसमें न सिर्फ भाजपा कार्यकर्ताओं ने जोश खरोश के साथ सहयोग किया बल्कि कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने भी जमकर भितरघात किया।यहां कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने कांग्रेस प्रत्यासी का लोकेशन शेयर करने के साथ साथ उनको अंधेरे में रखने के योजना को सफल बनाया।कई ग्रामों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने ग्राम में सब ठीक है का पहाड़ा पढ़ते हुवे कांग्रेस के लिए यहां प्रचार प्रसार तक नहीं किया जबकि भाजपा यहां मजबूती से अंदर ही अंदर काम करती रही।मुकेश शर्मा ने यहां नगेसिया समाज को समेटने चुनाव संचालक सुरेश राम के निर्देशन में दिलधरण राम सहित अन्य समाज के लोगों को संसाधन उपलब्ध करा भाजपा के पक्ष में काम करने खुला अवसर दिया।वहीं जुगनू यादव हरिशंकर यादव केशव यादव सहित अन्य सामाजिक पदाधिकारियों को जिम्मा दिया,वहीं कोरवा समाज को समेटने कोरवा समाज के अध्यक्ष टिपेंद्र राम को महत्वपूर्ण जिम्मेदारी सौंपा, इसी तरह हिंदू उरांव मतदाताओं को समेटने उमेश प्रधान के नेतृत्व में मंगल राम भगत सहित अन्य पदाधिकारियों को जिम्मा सौंपते हुवे समस्त संसाधन उपलब्ध कराए गए।सभी को जिम्मा देने के बाद बनाए गए रणनीति के अनुसार कमल के निशान में मतदान करने प्रेरित करने का प्रचार करने कहा गया।इस कार्य में हिंदुत्व कार्ड भी जमकर खेलते हुवे परंपरागत मतदाताओं को समेटा गया है।

whatsapp group
Related news